how to become software developer

Software Developer कैसे बने ? पढ़े पूरी जानकारी

आज के इस कंप्यूटर फ्रेंडली वर्ल्ड में कंप्यूटर से रिलेटेड बहुत से अच्छे जॉब ऑप्शंस मिल जाते हैं और इस लेटेस्ट और नए जमाने की टेक्नोलॉजी से जुड़ने में स्टूडेंट्स को भी इंटरेस्ट मिलता है तभी तो आज कंप्यूटर रिलेटेड करियर ऑप्शंस बहुत ज्यादा चुने जाते हैं जैसे के Software Engineer, Software Developer, Software Architect और Web Developer जैसे ऑप्शंस |

Software Engineer के बारे में तो आपने काफी सुना होगा लेकिन आज हम World Affairs की इस ब्लॉग में Software Developer के बारे में बताने वाले हैं यह भी हो सकता है कि आप Software engineer और Software Developer एक ही चीज समझते हो लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है |

यह दोनों एक दूसरे से रिलेटेड जरूर है लेकिन एक ही नहीं ऐसे में Software Developer से जुड़ी पूरी जानकारी लेने और Software engineer और Software Developer के बीच डिफरेंस को समझने के लिए इस ब्लॉग को पूरा जरूर देखें और दोस्तों आगे बढ़ने से पहले मैं आप सभी का इस ब्लॉग में बहुत-बहुत स्वागत करता हूं तो चलिए शुरू करते हैं और सबसे पहले जानते हैं Software Developer करियर ऑप्शंस के बारे में :

Software Developer Software Engineer
Software Engineer


Software Developer कंप्यूटर फॉर्म्स और मैन्युफैक्चरर्स के लिए काम करते हैं उनका मेन रोल होता है ऑपरेटिंग सिस्टम के फाऊंडेशंस को तैयार करना जिन पर कंप्यूटर प्रोग्राम काम करेगा वह नए सिस्टम और सॉफ्टवेयर की efficiency को ensure करने के लिए डिजाइन करते हैं लिखते हैं और उसे टेस्ट कोड करते हैं |

एक Software Developer एप्लीकेशन डेवलपमेंट प्रोसेस को स्टार्ट करने के लिए सबसे पहले अपने कस्टमर्स की जरूरतों को जानता है और उन जरूरतों को ध्यान में रखते हुए और एप्लीकेशंस को ध्यान में रखते हुए अलग-अलग कंपोनेंट्स को डिजाइन और डिवेलप करता है इसके अलावा Software Developer इस प्रोजेक्ट को शुरू से एंड तक मैनेज भी करता है और इस बात को सुनिश्चित करता है की वह key Stakeholders के लगातार संपर्क में बना रहे |

Software Developer के बारे में यह थोड़ी सी जानकारी लेने के बाद अब बारी है Software engineer और Software Developer के बारे में फर्क जानने की |


Software Developer वह सब करते हैं जो कि एक Software engineer करता है लेकिन उनका दायरा सीमित होता है उनका यह सीमित दायरा ही उन्हें engineer से बेहतर बनने का मौका देता है जबकि engineers को बड़े लेवल पर प्रॉब्लम्स को हल करना होता है |

इसीलिए उनके पास ज्यादा क्रिएटिव होने का मौका नहीं होता हो सकता है कि आपको Software engineer की दो कैटेगरी के बारे में पता हो application engineer और System engineer इनमें से application engineer काफी हद तक Software Developer के जैसे होते हैं क्योंकि उनका काम बड़े लेवल पर एप्लीकेशन को डिजाइन करना उसे परखना, इंस्टॉल करना और उसे मेंटेन करना भी होता है |

जबकि System engineer कंपनी के इंफ्रास्ट्रक्चर को मेंटेन करने का काम करते हैं Software engineer और Software Developer के बीच के इस छोटे से फर्क को समझने के बाद अब बात करते हैं के Software Developer बनने के लिए क्या-क्या करना जरूरी होता है यानी कि आपके Skills और आपकी qualification क्या होनी चाहिए |

Software Developing
Software Developing

सबसे पहले है :

कंप्यूटर प्रोग्रामिंग और कंप्यूटर कोडिंग सीखना Software Developer बनने के लिए आपके पास Strong coding Skills होनी चाहिए जिसमें code Structure, Database knowledge, algorithm और Data Structure आते हैं और :-

दूसरा है :

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज और ऑपरेटिंग सिस्टम को समझना सॉफ्टवेयर डिफाइलमेंट करने के लिए सॉफ्टवेयर कोडिंग लैंग्वेज को समझना सबसे ज्यादा जरूरी होता है तभी तभी आप कोई सॉफ्टवेयर बनाने के बारे में सोच सकते हैं इसीलिए Java, c language, c ++, JavaScript और ruby जेसी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखना बहुत जरूरी है और इसके अलावा आपको अपनी कोडिंग लैंग्वेज को टेस्ट करना भी आना चाहिए |

Computer Language
Computer Language


तीसरा है :

logical thinking and problem-Solving Skills प्रोग्रामिंग में छोटी से छोटी प्रॉब्लम भी बहुत बड़ी बन सकती है और सॉफ्टवेयर टेबल पर के तौर पर उस प्रॉब्लम को हल करना आपकी जिम्मेदारी है इसीलिए logical thinking and problem-Solving Skills को बढ़ाना बहुत जरूरी है |

नंबर 4 : पर आता है Soft Skills बाकी सभी Skills के साथ आपके पास Soft Skills का होना भी बहुत जरूरी है |


नंबर 5 : पर है curiosity किसी चीज की खोज करना और किसी चीज का हल निकालना इसके लिए इंसान का curious होना बेहद जरूरी है|


नंबर 6 : पर आता है written communication प्रोग्रामर के तौर पर अपने ideas को clearly express करने के लिए आपको अपनी written communication Skill भी बेहतर बनानी चाहिए |


नंबर 7 पर है :

patience प्रोग्रामिंग के दौरान patience रखना बहुत जरूरी होता है तभी आप बड़ी से बड़ी प्रॉब्लम को आसानी से हल कर सकते हैं इसीलिए खुद को शांत रखें इसके अलावा आपका इंटरेस्ट लेटेस्ट ट्रेंड्स और फ्रेमवर्क्स में भी होना चाहिए |

Programming
Programming


और अब जानते हैं educational qualification के बारे में सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने के लिए आपका 10+2 कंप्लीट करना जरूरी है और उसके बाद आपके पास कंप्यूटर साइंस या सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री होनी जरूरी होती है |

और बैचलर डिग्री लेने के बाद आप सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट के दो मेजर एरियाज में जॉब ढूंढ सकते हैं सिस्टम डेवलपमेंट और एप्लीकेशन डेवलपमेंट |

सिस्टम सॉफ्टवेयर डेवलपर्स कंप्यूटर्स के लिए ऑपरेटिंग सिस्टम डिवेलप करते हैं एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर डेवलपर कंप्यूटर प्रोग्राम डिजाइन करते हैं और existing programs को मॉडिफाई करते हैं |

ता के Specific task perform कर सके बैचलर डिग्री लेने के साथ आप सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट की बारीकियां ऑनलाइन भी सीख सकते हैं |

जैसे:

edx.org से आप CS50 introduction to computer Science सीखना शुरू कर सकते हैं इसके अलावा C/C++ programming पर मजबूत पकड़ बनाने के लिए आप Velox Institute JP Nagar, Bangalore मैं अप्लाई भी कर सकते हैं |

अगर आप मोबाइल टेबल पर बनना चाहते हैं तो IOS के लिए आप https://swift.org की मदद ले सकते हैं जब के android के लिए https://kotlinlang.org की मदद ले सकते हैं |

जहां तक सैलरी की बात है तो इंडिया में फ्रेशर सॉफ्टवेयर टेबल पर के तौर पर आप लगभग 3 लाख सालाना कमा सकते हैं और एक्सपीरियंस के साथ 4 से 5 लाख हर साल कमा सकते हैं दोस्तों अब आप जान चुके हैं |

सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने के लिए किन-किन कंडीशन और क्वालिफिकेशन को क्लियर करना जरूरी होता है और अब आप अपना कन्फ्यूजन बड़ी आसानी से दूर कर सकते हैं |

कि आपको सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहिए या सॉफ्टवेयर टेबल पर इसीलिए हमारी इस जानकारी को अपना सही करियर चुनने में इस्तेमाल करें और प्लीज आप लोगों से एक रिक्वेस्ट है कि करियर ऑप्शंस चुनते समय अपने इंटरेस्ट को जरूर ध्यान में रखें |

ये भी पढ़े : SEO एक्सपर्ट कैसे बने फुल डिटेल हिंदी में

World Affairs को यह उम्मीद है के यह इंफॉर्मेशन आपको बहुत पसंद आई होगी और दोस्तों आगे भी ऐसी ही इनोवेटिव और इंटरेस्टिंग जानकारियां लेने के लिए हमारे ब्लॉग World Affairs को Subscribe करके Bell icon को दबा दीजिए ताकि हर नई और इनोवेटिव जानकारी सबसे पहले आप तक पहुंचे धन्यवाद |

Leave a Reply

Your email address will not be published.